पानी से किस प्रकार इलाज होता है! Treatment Of the Water 

पानी के ज़रिये इलाज 
प्राकृतिक पैथी के डॉक्टरों ने पानी के ज़रिये इन बीमारियों का इलाज किया है।

1  लकवा(Paralysis)

2  बेहोशी

3  ब्लड कोलेस्ट्रोल

4  सर का दर्द(headache)

5  ब्लड प्रेशर

6  बलग़म (phlegm)

7  खांसी(cough)

8  दमा (asthama)

9  टीबी (Tuberculosis)

10  मेनन जॉइंटिस ( JAUNDICE)

11  जिगर(Liver)की बीमारी

12  पेशाब की बीमारियाँ

13  तेज़बियत(acidity)

14  पेट की गैस 

15  पेट में मरोड़ (colic)

16  क़बज़ ( Constipation)

17  डायबिटीज 

18  बवासीर (Piles)

19  आँख की बीमारियाँ

20  हैज़ (औरतों के period       आना)

21  बच्चे दानी (womb;uterus) का कैंसर

22  नाक व गले की बीमारियाँ

 पानी पीने का तरीका
बिना मुंह धोए और बिना कुल्ली किए नहार मुहं  1250ml मतलब 4 बड़े गिलास पानी संभव हो तो जमीन पर पालथी में बैठकर एक साथ पी जाएँ।

अब 45 mint तक कुछ भी ना खाएं पीयें । 

अगर शुरू(starting)में 4 गिलास पानी नहीं पी सकते हैं तो 1 या 2 गिलास से शुरू करें। धीरे धीरे बढ़ा कर 4 गिलास कर दें। मरीज़ ठीक होने के लिए और जो मरीज़ ना हो वह fit रहने के लिए यह इलाज का तरीका अपनाये।

Doctors का कहना है कि इस इलाज(इस तरीके से पानी पीने)से निम्नलिखित बीमारियाँ बताये हुए दिनों में ठीक हो सकती हैं। 

1 क़बज़ (मलावरोध Constipation) 2 दिन

2 गैस की बीमारियाँ 2 दिन

3 diabetes(शूगर)1 हफ्ता

4 उच्च रक्त चाप(high blood pressure) 1 महिना

5 कैंसर 1 महिना

 टीबी(tuberculosis) 3 महिना
6 बड़े गिलास पानी एक साथ पीने से कोई नुक़सान(side effects) नहीं होता हाँ पेट ज़रूर भर जाता है। 45 mint के बाद भूख लग जाएग

यह संदेश आप पढने के बाद आगे किसी को नहीं भेजेगें तो कोई नुक्सान नहीं होने वाला किंतु यदि आप आगे forward करते हैं तो हो सकता है कि किसी को लाभ मिल जाए l 

*डा० अर्जुन मंडा जैसलमेर 

योग चिकित्सक
* ठण्डे पानी के साथ गोलियाँ न लेवें ।

* सांय पाँच बजे के बाद भारी भोजन का सेवन न करें ।

* हमेशा! सुबह ज़्यादा पानी पीयें, व रात के समय कम ।
* सोने का सबसे अच्छा समय रात के दस बजे से सुबह चार बजे तक होता 

है ।
* दवाईयां खाना लेने के बाद तुरन्त न लेवें
एक अच्छे संदेश से सभी को अवगत

करवाना हँसी मज़ाक़ के 100 संदेश भेजने से अच्छा है ।

यह सभी के लिये उपयोगी है। 
ज्ञान बडा महत्वपूर्ण है जितना 

बाटोगे उतना बडेगा कृपया अपने परिचितों ,दोस्तो ,रिस्तेदारों को अवश्य अवगत कराये ।