Aaj Ka vichar ! आज का विचार

. आज का विचार

*प्रशंसा चाहे कितनी भी करो,
किन्तु *’अपमान’* बहुत ही सोच समझकर करना चाहिए……
*क्योंकि अपमान वो ऋण है,*जो हर कोई अवसर मिलने पर*’ब्याज’ सहित चुकाता अवश्य है!

Optimization WordPress Plugins & Solutions by W3 EDGE