Chuha Ne Piya Bhang! जय शिव शंकर 

​चूहा भांग की 4 गोटी खाकर मस्त था। 
जय जय शिव शंकर कांटा लगे ना कंकर प्याला 

तेरे नाम का पिया भजन पर मस्त झूम रहा था।
बिल्ली बोली: 

आज ये शिवजी का मेला ना होता तो मैं

तुझे खा जाती।
चूहा: अकाल मृत्यु वो मरे.. जो कर्म करे 

चांडाल का

काल भी उसका क्या करे.. जो भक्त हो 

महाकाल का
जय शिव शंकर 
चली जा साली, वर्ना लोग कहेंगे भांग के नशे में

औरत पे हाथ उठा दिया। 

Adv. में शिवरात्रि की शुभकामनाये