Kuch Tarkki Hogi Tabhi To! मुकाम अच्छा होगा तभी d


शख़्सियत अच्छी होगी तभी दुश्मन बनेंगे, वरना बुरे की तरफ़ देखता ही कौन है,*_
_*पत्थर भी उसी पेड़ पर फेंके जाते है जो फलों से लदा होता है,*_

_*देखा है, किसी को सूखे पेड़ पर पत्थर फेंकते हुए…!!!*_

 

       *स्नेह वंदन* 

          सुप्रभात

  आप का दिन शुभ हो

Optimization WordPress Plugins & Solutions by W3 EDGE