Morning Messages! जो पीता के पैर छूता है वहा कभी गरीब नहीं होता है 


जो *पिता* के पैरों को छूता है

           वो कभी *गरीब* नहीं होता।
जो *मां* के पैरों को छूता है 

         वो कभी *बदनसीब* नही होता।
जो *भाई* के पैराें को छूता है 

         वो कभी *गमगीन* नही होता।
जो *बहन* के पैरों को छूता है 

       वो कभी *चरित्रहीन* नहीं होता। 
*जो गुरू के पैरों को छूता है*

         *उस जैसा कोई*

                *खुशनसीब नहीं होता*…….
अच्छा *दिखने* के लिये मत जिओ 

          बल्कि *अच्छा* बनने के लिए जिओ
 जो *झुक* सकता है वह सारी 

          ☄दुनिया को *झुका* सकता है 

  अगर बुरी आदत *समय पर न बदली* जाये 

          तो बुरी आदत *समय बदल देती* है

  चलते रहने से ही *सफलता* है,

          रुका हुआ तो पानी भी *बेकार* हो जाता है 
झूठे दिलासे* से *स्पष्ट इंकार* बेहतर है

   अच्छी *सोच*, अच्छी *भावना*,

          अच्छा *विचार* मन को हल्का करता है
मुसीबत सब पर आती है,

          कोई *बिखर* जाता है 

            और कोई *निखर* जाता है

दुनिया की ताकतवर चीज है *”लोहा”*

       जो सबको काट डालता है ….

लोहे से ताकतवर है *”आग”*

        जो लोहे को पिघला देती है….

आग से ताकतवर है *”पानी”*

        ☄जो आग को बुझा देता है…. 

और पानी से ताकतवर है *”इंसान”*

        जो उसे पी जाता है….

इंसान से भी ताकतवर है *”मौत”*

         जो उसे खा जाती है….

और मौत से भी ताकतवर है *”दुआ”* 

      जो मौत को भी टाल सकती है…
 “तेरा मेरा”करते एक दिन चले जाना है…

         जो भी कमाया यही रह जाना है

      कर ले कुछ अच्छे कर्म

      *साथ यही तेरे आना है*
        मुझे वो रिश्ते पसंद है,*

    *जिनमें “मैं” नहीं “हम”हो 
Radhe Radhe

Optimization WordPress Plugins & Solutions by W3 EDGE