BAHUBALI 3 Thandi Joke!!!  सर्दी आ गई है है खुदा बस इतनी ताकत दे कि रजाई में से निकल सके 

 *ठंड क्या है…… 
क्या है ठंड ?
 हमारे आत्मबल से ठंड का बल ज्यादा है……. ये सोचना है ठंड ! 
ठंड से भयभीत होकर…… बिस्तर में सोते रहना है ठंड ! 
जिस नीच ने मेरे शरीर को सुस्त किया…….. 

उससे डरकर, हाथ पैर धोकर, बिना नहाये, बाथरूम से पीठ दिखाकर भागना है ठंड! 

उस ठंड को मारने जा रहा हूँ मैं !…..
 उसकी छाती चीरकर…… साबुन से नहाने जा रहा हूँ मैं…. 
जय~~~ माहिष्मती~~~ !!! 😡😜
 *बाहुबली 3*

 बस स्टॉप पे

एक आदमी ठण्ड से सिकुड़ रहा था
तभी एक लड़की उधर से गुजरी
लड़की – इतनी ठण्ड है

मफलर बांध लो ना भैया
आदमी – अरे नहीं मैं तो भाजपा से हूँ

पत्नी पति रात को रजाई में सो रहे थे
अचानक कमरे में –

“किट किट” की आवाज आने लगी
पत्नी – उठो देखो चूहा कपडे कुतर रहा है
पति – कमीनी सारी रजाई

तूने खींच ली
सर्दी में मेरे दांत किटकिटा रहे हैं 
Patni pati raat ko rajai me so rhe the
Achanak Kamare me –

“kit kit” ki awaj aane lagi
Patni – kamini sari rajai

tune khich li
Sardi me mere dant kitkita rhe hain 

पति पत्नी ठंड की दोपहर में धूप सेक रहे थे.. बैठे

बैठे दोनों बोर हो गए…पत्नी ने कहा अजी क्यों न

हम कुछ करके समय बिताते है…

पति : क्या…??

पत्नी : क्यों न हम एक दूसरे के सिर के पके बाल

उखाड़ते है और हर एक बाल उखाड़ने पे एक

स्वतंत्रता सेनानी का नाम लेते हैं

यह रोचक होगा…

कोई नाम Repeat नही किया जायगा..

पति:ठीक है..

..

पत्नी ने पति का एक पका बाल उखाड़ा और

कहा भगत सिंह..

..

पति ने भी वही किया और कहा नेताजी…!

..

ऐसे ही चल रहा था पर अचानक पति ने एक साथ

तीन बाल उखाड़े और कहा लाल-बाल-पाल…

..

पत्नी ने आव देखा न ताव एक मुठ्ठी बाल उखाड़े

और कहा जालियांवाला बाग़… 

मोरल – पत्नियों से भूलकर भी पंगा ना ले..

: ठंड के जोक्स JOKES AND CHUTKULE
बंटी: आज इतनी ठंड क्यों है?

पप्पू: सूरज नही निकला ना

बंटी: क्यों नही निकला?

पप्पू: उसकी मम्मी ने नही निकलने दिया। बोली कि ठंड में कहाँ जायेगा, पड़ा रह कम्बल में, फालतू की आवारागर्दी करेगा।

इंसान को जितनी चादर हो उतने ही पैर पसारना चाहिये,

.

.

.

.

.

.

.

.

.

नहीं तो ठंड लगती है।

: रजाई खींचना देशद्रोह के बराबर माना जाएगा।

– उसके बाद किसी ने चाय नहीं पिलाई तो असहिष्णुता माना जाएगा।   

Thand ka Mausam aur WhatsApp Admin Shayari
मौसम ने ली अंगड़ाई

और निकाल ली आप ने रज़ाई
आइसक्रीम से हुई लड़ाई

और मूंगफली है घर में आई
शरबत से मुंह मोड़ लिया

चाय से नाता जोड़ लिया
ज़रा सी ठंड क्या पड़ी

ADMIN ने तो नहाना ही छोड़ दिया।

Optimization WordPress Plugins & Solutions by W3 EDGE